Home

Welcome to your new site.

Welcome to your new site! You can edit this page by clicking on the Edit link. For more information about customizing your site check out http://learn.wordpress.com/

Latest from the Blog

कारोबारी

कोई किसे ना मार सका पैदा करे ना कोई, कुदरत चलती चाल सभी फिर भी मैं मैं होई, मैं, मैं कर रहे हैं व्यापारी मैं, मैं कारोबारी, मैं, मैं का जुआ खेल रहे और हारे बारी बारी, अजर, अमर वो जान रहे तन पर पहने गहने, बूढ़ा फिर भी हो रहा चाहे कोई कितने जेवरContinue reading “कारोबारी”

कविता

पल पल मेरा लेती टेस्ट मेरी बीवी सबसे बेस्ट, योग करती डाइटिंग करती मुझसे दिन भर फाइटिंग करती, रीती रिवाज़ में है परफेक्ट मेरी बीवी सबसे बेस्ट, शरीर में जैसे रीढ़ वो मेरी माथे पर दो आँखें, हाथ वो मेरे , चाल वो मेरी आती जाती साँसे है संसार, संसार के भीतर करे वो तीनContinue reading “कविता”

Unknowable

When we have no clue about anything, it is unknown. When we have a clue and we know some part of it and yet larger part is unknown, we call this mystic. When knowing part of it and yet hope full that it can be known one day is Science.When we try to know whichContinue reading “Unknowable”

Get new content delivered directly to your inbox.

Create your website at WordPress.com
Get started